अपने घर से नई जगह की तलाश में निकल गया

in Urdu Community23 days ago

हेल्लो दोस्तों आप सब कैसे हो आप सभी का स्वागत हे मेरे ३स्पीक व्लॉग पर , आज में बोहत ही जल्दी उठ गया था। फिर में सोच में पड़ गया के आज मुझे कहा जाना हे। और में अपने घर से नई जगह की तलाश में निकल गया। फिर में ऐक प्राकृतिक जगह पर पोहच गया जहा हर तरफ हरे भरे पेड़ थे जो बोहत ही खूबसूरत दिखाई देते हे। और उनके देख के में सोच में पड़ गया के यह पेड़ इतने खूबसूरत और हरे भरे कैसे हे। क्यों के आज भी गर्मी ने अपना पुराना रिकॉर्ड थोड़ दिया हे। आज भी बोहत ही गर्मी थी। फिर ही इतनी ज्यादा गर्मी में पेड़ के पत्ते हरे भरे ही थे। जिसे देख के में सोच में पड़ गया। जिस गर्मी में इंसान नहीं रेह सकते हे वहा पेड़ वगेरे किस तरह से गर्मी को सहेन कर सकते हे।
2.jpg

आज में यही सोच में पड़ गया के ,गर्मी इतनी ज्यादा कैसे बद गई हे। गर्मी बढ़ने के कारन क्या हे। इस लिये मेने यु टुब का सहारा लिया। जिस में मुझे जानने को मिला के गर्मी बढ़ने के काफी कारन हे ,जिस में सबसे बड़ा कारन जंगलो को काटना हे। आप देखा सकते हो हर तरफ पेड़ो को काटा जाता हे। जहा हमें पेड़ को बढ़ाना हे वहा पेड़ को काट रहे हे। आज हम ५० क की ऐसी लगा सकते हे। लेकिन १० रुपये का पेड़ नहीं लगा सकते। इसी वजह से आज हम अपनी बर्बादी का जसन मना रहे हे।

Coin Marketplace

STEEM 0.22
TRX 0.12
JST 0.029
BTC 66103.77
ETH 3554.23
USDT 1.00
SBD 3.11