Rajmata

in india •  2 months ago

महान लोकतान्त्रिक देश की राजमाता ने अपनी पार्टी के महाधिवेशन के शुरू में शर्मो-शर्मा वंदे मातरम गाने का आदेश दिया..... सभी लोग खड़े होकर वन्देमातरम गाने लगे ..... पर माईक से अजीब आवाजे आने लग गयी..... पता नहीं गले के शर्मनिरपेक्ष सुर आदेश का साथ नहीं दे रहे थे या फिर साउंड के ठेकेदार को पैसे की चिंता थी......कि वंदे मातरम गाया तो गया पब्लिक तक नहीं पहुंचा और ...... राजमाता की नाक बच गई..... नहीं तो मुस्लिम वोटरों को क्या जवाब देती.20180825_120547_0001.png

Authors get paid when people like you upvote their post.
If you enjoyed what you read here, create your account today and start earning FREE STEEM!
Sort Order:  

You got a 6.17% upvote from @upme thanks to @puneetsuthar! Send at least 3 SBD or 3 STEEM to get upvote for next round. Delegate STEEM POWER and start earning 100% daily payouts ( no commission ).

pata nehi muslim ko bade matarm se kya problem he...

राजमाता के बारे कहा वो तो सभी जानते हैं लेकिन इसमें गलती तो लोगो की हैं ! मुस्लिम या फिर कोई धरम के लोग हो और लोगो को ऐसा क्यों विश्वास हो जाता हैं की कोई नेता अगर हमारी वेशभूषा पहन लेता हैं तोह उसे हम अपना हमदर्द समझने लग जाते हैं! यह तोह वोट बैंक की राजनिति हैं !