खजाने की खोज: Treasure hunt

in blog •  20 days ago

20180905_102409.jpg

खजाने की खोज

रासो में लिखा है की पृथ्वीराज चौहान को एक बहुत बड़ा खजाना हाथ लगा था जिसे निकलने में समर सिंह ने पृथ्वीराज की मदद की थी। एक बार पृथ्वीराज चौहान दिल्ली से अजमेर जा रहे थे तब उन्हें खट्टू वन में एक सुन्दर सा तालाब दिखा उस तालाब में एक सुन्दर सी मूर्ति थी उस मूर्ति के माथे में लिखा था “सिर कटे धन संग्रेहे, सिर सज्जे धन जाए” यह लिखावट देखकर पृथ्वीराज को बहुत आश्चर्य हुआ, उन्होंने अपने चतुर मंत्री कैमाश से इसका मतलब पूछा।

कैमास बहुत ही बुद्धिमान पुरुष था, उसे पता था की सायद यहाँ खजाना है और इसे निकालने में वक़्त लगेगा जिससे की कहीं गौरी फिर से कहीं अकर्मण न कर दे, उसने उसी समय इसका मतलब समझाते हुए कहा की यहाँ पर एक खजाना छुपा है अगर आप इसे निकलवाना चाहे तो रावल समरसिंह को बुलावा भेज दे, कैमाश के कहे अनुसार समरसिंह को बुलाने के लिए पुएंदीर एवं अन्य सामंतों ने अनेक प्रकार के उपहार लेकर चितोड़ गए और इधर अपने घर का भेदी धर्मयन ने अपने विश्वासी दूत से मुहम्मद गौरी को ये सन्देश भेजवा दिया की पृथ्वीराज अभी धन निकलने में लगे है इसलिए आप अभी अपना अपमान का बदला ले सकते है।

इधर पुएंदीर की प्राथना के अनुसार रावल समर सिंह अपनी सेना के साथ आ पहुंचे, और ठीक इसी समय गौरी ने अपने मुख्या मुख्या सरदारों के साथ आ पहुंचा, परन्तु कैमाश की बुद्धिमता के अनुसार पहले ही प्रबंध हो चूका था, पृथ्वीराज चौहान ने आगे बढ़कर गौरी का सामना किया, क्योंकि वे पहले गौरी को परस्त कर फिर धन निकालना कहते थे, यह युद्ध नागोर के पास ही हुआ था इधर समर सिंह भी पृथ्वी की मदद करने के लिए पहुँच गए, दोनों योधाओं ने जमकर युद्ध किया और मुहम्मद गौरी को फिर से बंदी बना लिया गया।

यह समाचार जब गजनी पहुंचा तब वहां से गौरी को मांगने के लिए दूत आया और इसके बहुत कुछ प्राथना करने पर पृथ्वीराज ने श्रीन्गाहर नामक एक बहुत बढ़िया हाथी और बहुत सा धन देकर गौरी को छोड़ दिया और एक बार फिर अपना वीरता का परिचय दिया।

इसके बाद ही धन निकालने का कार्य फिर से शुरू हुआ,इस बार पृथ्वीराज को बहुत बड़ा खजाना हाथ लग गया, इसका आधा अंश पृथ्वीराज चौहान ने समर सिंह को देना चाहा पर उन्होंने खुद कुछ भी न लेकर , अपने पास में से कुछ और मिलाकर सैनिकों में बंटवा दिया।

The English language translation With the help of Google translation tool as below

20180905_102643.jpg

Raso has written that Prithviraj Chauhan had a huge treasure hunt which Samar Singh had helped Prithviraj to get out. Once Prithviraj Chauhan was a beautiful sculpture in the pond showing a beautiful pond and they Kttu forest were going to Ajmer from Delhi wrote forehead of the statue "head to cut funding Sngrehe, head Szze wealth" It Prithviraj's handwriting It was astonished, he asked his clever minister Kamash to mean it.

Kamas was very intelligent guy, he knew Sayd here treasure and take the time to remove it, so do not Akarmn than anywhere Gauri then, he has hidden a treasure on the explained means at the same time if you If you want to get rid of this, send a call to Raval Samar Singh, according to Kamath, the Pantar and other feudalists took away a variety of gifts to summon Samar Singh Dharmi Dharman, the religious leader of his faith, sent this message to Muhammad Ghauri that Prithviraj is now engaged in a lot of money, so you can take revenge for your humiliation right now.

Here arrived with Rawal Samar Singh his army to pray to Puandir, and the same time Gauri has come with its main main warlords, but in accordance with the wisdom of Kamash missed already managing, Prithviraj Chauhan forward Gauri , Because they used to go back to Gauri and then say to take out the money, this war had happened only to Nagor and even Samar Singh would also be able to help the earth. Both Yodhaon fiercely war and Muhammad Ghauri was arrested again.

This news when reached Ghazni came messengers to ask Gauri there and left Gauri by a great elephant and a lot of money Prithviraj called Sringahr on its much prayer and once again showed his bravery.

After this, the work of withdrawal began again, this time, Prithviraj got a huge treasure, half of it was Prithviraj Chauhan trying to give Samar Singh but he himself did not take anything, by adding some of his soldiers to the soldiers Split in

हेलो दोस्तों मुझे बताना जरूर मेरी कहानी कैसी लगी
Hello friends tell me definitely what my story looks like

Follow me

Authors get paid when people like you upvote their post.
If you enjoyed what you read here, create your account today and start earning FREE STEEM!
Sort Order:  

Good luck super story

The new becomes the old when thought touches it , thought is always old, but love is not ...

·

Yes my frnd